Delhi: दिल्ली में महिला के साथ दरिंदो सा व्यवहार , देख कर बेहोश हो गए लोग

Dilli men mahila ke sath darindo saa vyavahaar , dekh kar behosh ho gaye log : सरेआम पिंजरे में बंद किया गया है उसे जंरीरों से बांधा गया इतना ही नहीं जबरदस्ती उनके मुंह में केमिकल्स डाले गए

ये तस्वीरें देख कर शयद आपका दिल दहल जाये ये तस्वीरें दिल्ली से सामने आ रही है. इन तस्वीरें इतनी भयानक है की कोई भी इसे देख कर सहम जाएगा। इस वीडियो में साफ़ दिखाई दे रहा है एक महिलाओं को सरेआम पिंजरे में बंद किया गया है उसे जंरीरों से बांधा गया इतना ही नहीं जबरदस्ती उनके मुंह में केमिकल्स डाले गए बहुत ही दर्दनाक नज़ारा है. उसके सर मुंड दिए गए और वो सब किया गया है जो उसके जीवन को तार तार करने के लिए किया जा सकता है उसे बिजली के झटके तक दिए गए जिसके बाद उन्हें कूड़े के ढेर में फेंक दिया गया.

Courtesy: theworldnewshindi

ये न्यूज़ पड़ने के आपको भी बहुत दुःख हो रहा होगा दुःख हो भी क्यों न कोई भी इस खबर को पड़ने के बाद दुखी हो ही जायेगा ! आप अपने आपको संभाल नहीं पा रहे होंगे। तो अपने आप को थोड़ा संभाल लीजिये क्युकी आपके राहत के लिए आपको बता दें कि ये असल में नहीं हुए बल्कि एक गहरा और बेहद ज़रूरी संदेश देने के लिए रचा गया एक प्ले था.

Courtesy: theworldnewshindi

इन कामो को नाटकीय रूप से अंजाम दिया है जानवारों के अधिकारों की मुहिम चलाने वाली संस्था पेटा ने . इस संस्था से जुड़ी नेहा सिंह और उनके साथियों ने इस स्ट्रीट थियेटर में हिस्सा लिया जिसमें इन कलाकारों के शरीर के साथ वही बर्ताव किया गया जैसा जानवरों के शरीर के साथ किया जाता है ! उनके मीट और शरीर के बाकी हिस्सों के अलग-अलग इस्तेमाल के लिए किया जाता है.

हालाँकि जानवरों के मीट से लेकर उनकी खाल और बाकी हिस्सों का इस्तेमाल अलग-अलग इंसानी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए होता है. पर इन कामो को जानवरों को ज़हर देने से लेकर भूखा मारने तक जैसे कृत्य किए जाते हैं. इन महिलाओं के जो स्ट्रीट प्ले किया उसमे वो सारी चीज़ें की गईं जिससे जानवरों के प्रति होने वाली ऐसी दरिंदगी को लेकर एक पुख्ता संदेश जाए.

यहाँ आपको बताते चले पेटा पर कई बार गंभीर आरोप लगते रहे है कभी नगन्ता तो कभी मारपीट के ये संस्था हमेशा से विवादों में रही है , ऐसे में इसका ये सन्देश कितना कारगर होगा ये तो समय के साथ ही पता चलेगा ! 

peta delhi

loading...