Jashn-e-Rekhta क्या है ?

Jashn-e-Rekhta एक ऐसे festival जिसमे एक भाषा की सभ्यता संस्कृति को दर्शाया जाता है जिसे हम उर्दू भाष के नाम से जानते हैं !

Jashn-e-Rekhta क्या है ? | Gyan Ki Dukan

Jashn-e-Rekhta एक ऐसे festival जिसमे एक भाषा की सभ्यता संस्कृति को दर्शाया जाता है जिसे हम उर्दू भाष के नाम से जानते हैं !

Jashn-e-Rekhta क्या है ?

Jashn-e-Rekhta एक प्रकार का उर्दू festival  है जो भारत की राजधानी दिल्ली में हर साल मनाया जाता है ! इस festival  में उर्दू भाषा उसकी सभ्यता इसके रंग रूप को दर्शाया जाता है ! ये दो दिन या तीन दिनों तक चलता है ! ये Rekhta फाउंडेशन द्वरा आयोजित किया जाता है !  

Rekhta Foundation  एक non-profit आर्गेनाइजेशन है जो उर्दू सभ्यता , भाषा और संस्कृति के लिए काम करता है ! इस फाउंडेशन ने 2003 में एक वेबसाइट जारी की जो समय के साथ बहुत तेज़ी से लोकपिरयें होती गई और देखते ही देखते ये उर्दू कविताओ का दुनिया में सबसे बड़ा संग्रह बन गई !

जाने Rekhta Website का संग्रह  कैसा है ?

ये वेबसाइट 13वी सदी के लोकपिरयें  कविओ और शायरों के सबसे बेहतरीन रचनाओ को दिखती है ! इसमें आपको १३वी सदी के छोटे बड़े शायरों के 2100 से ज़्यादा कलाम मिल जायेगे ! यह संग्रह सिर्फ उर्दू तक ही सिमित नहीं है इसके संग्रह में आपको १३वी सदी से लेकर आज तक के लगभग 25,000 से ज़्यादा नज़्म और ग़ज़ल फ़ारसी ,रोमन और देवनागरी लिपि में मिल जायेगे ! इसमें आपकी सहायक के लिए टूल भी है जैसे कविताये पड़ते समय यदि कोई शब्द समझ न आये तो इसके उर्दू फ़ारसी शब्द के हिंदी अर्थ दिए गए हैं ! इस तरह इसमें एक उर्दू हिंदी शब्दकोश भी है ! इसमें इनसब के आलावा 20000 e-book,45,00 audios ,46,00 videos भी उपलब्ध है !

Jashn e Rekhta क्यू मनाया जाता है ?  

Jashn e Rekhta का लक्ष मुखरूप से भारतीय महादीप में जन्मी भाषाओ के बारे में जागरूकता फैलाना है ! ये फेस्टिवल उर्दू भाषा और संस्कृति के बहुमुखी रंग रूप और उदार सभ्यता की सही तस्वीर दिखने के लिए मनाया जाता है ! इस फेस्टिवल में उर्दू के विशाल और भावुक प्रकीर्ति को दिखने के लिए बहुत सरे किर्याकलाप किये जाते हैं जैसे कविताये पड़ी जाती हैं ,ग़ज़ल ,शेर-ओ-शायरी ,नज़्म  सिनेमा ,मुशाइरस ,डिसकशन्स, फिल्म  screenings and एक्सहिबिशन्स आदि किये जाते हैं ! इसमें देश विदेश के हज़ारो राइटर्स, poets, artists, litterateurs, journalists and लैरिसिस्ट्स स्टूडेंट आदि भाग लेते हैं !

2017 का  Jashn-e-Rekhta  कैसा रहा ?

2017 का  Jashn-e-Rekhta 17-19 फ़रवरी को मनाया गया इसमें कई जाने मने व्यक्तियों ने भाग लिए ! लेखक ,संगीतकार और कई प्रतिभाओ के धनी फिल्म डायरेक्टर गुलज़ार ,आप नेता और कवी कुमार विश्वास आदि ने इस साल 2017 के Jashn-e-Rekhta में शिरकत की ! युवाओ की एक बड़ी भीड़ भी देखने को मिली ! इसकी  शुरआत GULZAR & USTAD AMJAD ALI खान ने की ! 3 दिनों तक चले इस festival का समापन 19 फ़रवरी 2017 को हो गया!

urdu rekhta delhi event

loading...