कुछ देश जहाँ नहीं डूबता सूरज, जानिए कैसे रखते है लोग यहां रोज़े (Ramadan Around The World)

Kuchh desh jahaan naheen ḍaoobataa suraj, jaanie kaise rakhate hai log yahaan roze : दुनिया में कुछ देश ऐसे भी हैं जहाँ सूरज नहीं डूबता. तो सवाल उठता है वहां के लोग आखिर रोज़े रखते कैसे हैं.

रोज़ा सुबह सूरज निकले के पहले शुरू होता है वो सूरज डूबने के बाद मुकमल होता है !  हर देश में रोज़ा का यही नियम है . लेकिन क्या आपको मालूम है दुनिया में कुछ देश ऐसे भी हैं जहाँ सूरज नहीं डूबता. तो सवाल उठता है वहां के लोग आखिर रोज़े रखते कैसे हैं. इन देशो में रहने वाले मुसलमानों के लिए ये एक बड़ी चुनौती है ! आर्कटिक महाद्वीप में रहने वाले मुसलमानों के लिए रोजे रखना बड़ी चुनौती है.

इसकी वजह ये है की वहां सूरज की रौशनी कभी खतम ही नहीं होती सूरज की रौशनी लगभग पूरे 24 घंटे दिखाई देती है. यानी यहां सूरज नहीं डूबता.दूसरा स्थान है उत्तरी फिनलैंड जहां सूरज डूबता तो है पर सिर्फ 55 मिनट के लिए , वहीं यूरोपीय देश स्वीडन और आसपास के देशों में गर्मी आते है सूरज का डूबना भी बंद हो जाता है. यानि इन जगहों पर हर वक़्त दिन ही रहता है.

ऐसे ही इलाके में रहने वाले कुछ लोगो ने बतया कि यहां रोजा सुबह 1:35 पर शुरू होता है और शाम को 12:48 पर खत्म हो जाता है. यानी रहने वाला रोज़ेदार 23 घंटे 13 मिनट का रोजा रखता है. ये वो देश है जहां 22 फीसद मुस्लिम आबादी है यानी 1.6 करोड़ लोगों इन देशों में रहते हैं.

वही ब्रिटेन में रहने वाले लोग रमजान के महीने में  एक दिन में 16 और 19 घंटे का रोजा रखते हैं. इस समय रमजान का पाक महीना चल रहा है. इसमें सभी मुस्लिम धर्म रोजे रखते हैं. आम तौर पर रोज़ा रखने का समय हर देश में सूरज उगने से पहले शुरू होता है और सूरज डूबने के साथ ख़त्म होता है. 

loading...