NK: यहाँ है सिर्फ तनाशाही , दोस्त को फ़ोन करने पर मिली मौत की सजा

Yahan hai sirf tanashahi , dost ko phon karane par mili maut kee sajaa: एक ऐसे देश जाना जहां जतना के न सिर्फ समाजी अधिकार बल्कि बुनयादी अधिकार भी सरकार के नियंत्रण में है ,यहाँ आपको क्या देखना है ,क्या सुन्ना है ,किसके बारे में बात करना है ,क्या पहनना है सब का फैसला सरकार करती है !

बिना रोकटोक कही भी घूमना , भूल जाइये

उत्तर कोरिया एक ऐसा देश है जहां लोगो को अपने ही देश में अपनी मर्ज़ी से घूमने की इजाजत नहीं है। यहाँ प्रति 1000 लोगों पर एक से भी कम कार है। हलाकि जो देश में बड़े ओहदो पर है वो अपने रौब का दिखावा करते हुए बड़ी-बड़ी गाड़ियों में घूमते हैं।

बातें करना

इस देश कोई भी सरकार की बुराई या उसके बारे में बातचीत नहीं कर सकता ऐसा करने पर उसे 'री एजुकेशन कैंप' में भेज दिया जाता है। यहाँ पर इनसे कड़ी मेहनत करवाई जाती है और इन्हे सरकार के बारे में ने सिरे से शिक्षा दी जाती है।

जीन्स पहनना

आज जहां हम अपने वर्ड रॉब में पैंट के नाम पर जीन्स भरे रहते हैं वहीं उत्तर कोरिया ने 2016 में इसे बैंड ही कर दिया अब यहाँ कोई भी जीन्स नहीं पहन सकता ! इस बारे में वह के राजा का तर्क है यह अमेरिकन साम्राज्यवाद को दर्शाता है। 

टीवी पर क्या देखना चाहते हैं

टीवी पर आप क्या देखेंगे ये आप नहीं सरकार तय करेगी इस लिए आपको वहीं देखना है जो सरकार दिखा रही है जैसे हमारे देश में खाने को लेकर आजकल चल रहा है ! बीते सालों में यहाँ कई लोगो को सार्वजनिक रूप से दंड दिया गया है वो भी सिर्फ साउथ कोरियाई टीवी देखने की वजह से ।

म्यूजिक वो भी अपनी मर्ज़ी का , नॉट पॉसिबल

सिर्फ टीवी ही नहीं संगीत भी सरकार ही तय करती है क्या सुन्ना है क्या नहीं । यहाँ वो ही गाने सुने जा सकते हैं जो सरकार की गुणगान करते हो। वेस्टर्न म्यूजिक का तो नाम भी मत लीजियेगा ये यहाँ गुनाह है और इसे बजाने पर आपको अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ सकता है।

धर्म का पालन करना

वैसे तो नार्थ कोरिया में आम जनता को 'धार्मिक विचारों को मानने की स्वतंत्रता' है। लेकिन कुछ खबरों की मने तो धर्म के नाम पर हजारों लोगों को प्रताड़ित किया जाता है।

बाहरी दुनिया से कनेक्ट होने पर संदेह

यहाँ दूसरे देशो से बात चित भूल ही जाइये ऐसे करेंगे तो जान भी जा सकती है !एक व्यक्ति ने अपनी जान सिर्फ इसलिए गवाई क्युकी वो अपने साउथ कोरियाई दोस्त को कॉल कर रहा था 

विदेश जाना

यहाँ से दूसरे देशो में जाना अच्छा नहीं मन जाता है ! कुछ लोग देश छोड़कर चीन में जाकर रेफ्यूजी बन जाते हैं। पर अधिकारियों को इस बात की खबर हो गई तो मौत की नींद सुलाया भी जा सकता है 

इंटरनेट का इस्तामल आसान नहीं

अगर आप यहाँ इंटरनेट चलना कहते हैं तो पहले अनुमति लेनी होगी !  2013 में एक वेब आर्टिकल लिखने के कारण एक ऑनलाइन जर्नलिस्ट को 6 महीने की कैद का सामना करना पड़ा था।

शराब पर पाबंदी

यहाँ कुछ एक खास हॉलीडेज पर ही ड्रिंक की जा सकती है। शराब खुलेआम नहीं पि जाती ! अगर शराब पिने वाला स्टूडेंट हो तो सख्ती से पूछताछ होती है !2012 में तो किम जोंग II के शाशनकाल में एक मिलिट्री अफसर को मोर्टार से उड़ा दिया गया क्युकी उसने शारब का सेवन किया था !

loading...