भारत के 8 सबसे खुखार अपराधी, जिन्होंने अपने अपराधों से भारत को हिला दिया था |

8 most wanted criminal in indian history: 60 से 90 का दशक भारत के लिए काफी महत्वपूर्ण रहा है | जहाँ इस दशक में भारत तेजी से बदल रहा था और आगे बढ़ रहा था तो इसी बीच कुछ ऐसी चीज़े भी हुई जिससे लोग डरे हुए थे और ये डर था डाकुओ , गैंगस्टर और सीरियल किलर्स का | इनमे से लोगो को सबसे ज़्यादा डर लगता था "सीरियल किलर्स" से | डाकु , गैंगस्टर तो पैसो के लिए खून करते थे पर "सीरियल किलर्स" तो सिर्फ अपनी सनक के लिए खून करते थे | कौन थे ये ?

1. डाकू भूपत सिंह

मिलिए भारत के सबसे पहले "रोबिन हुड" डाकू भूपत सिंह से जिसने राजा-रजवाड़ो और अंग्रेजो की नाक में दम कर रखा था तो वही उनसे लूटा हुआ पैसा वो गरीबो में बाट दिया करता जिसकी वजह गरीबो के दिल में उसके लिए काफी इज़्ज़त थी | जिसकी वजह से पुलिस कभी भी भूपतसिंह को पकड़ नहीं पाई |

भूपतसिंह डाकू मज़बूरी में बना क्यूंकि कुछ लोगो ने उसके दोस्त की बहिन से बलात्कार किया और इस आरोप में भूपतसिंह को फसा दिया , इन्ही सबसे बदला लेने के लिए भूपतसिंह ने बन्दुक उठाई और डाकू बन गया | डाकू बनने के बाद भूपतसिंह के नाम से राजा-रजवाड़े क्या पुलिस भी डरती थी पर जब हिंदुस्तान और पाकिस्तान अलग हुआ तो कुछ मज़बूरी के कारण गुजरात के कच्छ से होते पाकिस्तान चला गया जिसे पाकिस्तानी सेना पे पकड़ लिए और घुसपेट करने के कारण उसे एक साल की सजा सुनाई ,इसके बाद उसने भारत की तरफ नहीं देखा और पाकिस्तान में ही बस गया और 2006 में पाकिस्तान की धरती पर उसने सबसे से विदा ले ली |

2. रंगा और बिल्ला

रंगा और बिल्ला ये नाम अपने कई बार फिल्मो में सुना होगा पर इनके बारे में आप नहीं जानते होंगे | रंगा और बिल्ला शायद उस समय के सबसे खुखार अपराधी होंगे जिनके अपराध सुन कर आज भी लोग काँप उठते है | रंगा और बिल्ला ने बच्चों को अगवा कर दुष्कर्म के बाद उनको मौत के घाट उतार दिया था। इन दोनों ने एक भाई और बहिन को फिरौती के लिए अपहरण कर लिया जिनका नाम  संजय और गीता चोपड़ा था और  3 दिन बाद दोनों भाई-बहनों के शव बरामद किए गए। रंगा-बिल्ला को एक ट्रेन से गिरफ्तार किया गया और 4 साल तक चली सुनवाई के बाद 1982 में उन्हें फांसी दे दी गई।

loading...