GDP (Gross domestic product) क्या है? |

जीडीपी एक साल में उत्पादित हर तरह की वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन के मिले हुए बाजार मूल्य को जीडीपी कहा जाता है।

GDP (Gross domestic product) क्या है? |

जीडीपी एक साल में उत्पादित हर तरह की वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन के मिले हुए बाजार मूल्य को जीडीपी कहा जाता है।

जीडीपी का नाम तो आये दिन सुनते होंगे ! न्यूज़ में अक्सर कहा जाता है देश की जीडीपी बढ़ गई या घाट गई ! हमारे नेता कहते हैं हम जीडीपी 7% से 9% कर देगे, कभी रिज़र्व बैंक कहता है जीडीपी के बारे में कुछ कहता है ! इन सब स्रोत से हम जीडीपी का नाम अक्सर सुनते हैं! जीडीपी का देश के विकास में क्या योगदान है किसी देश की अर्थव्यवस्था में जीडीपी का क्या योगदान होता है ! जीडीपी घटने बढ़ने से क्या देश की  इकॉनमी पर क्या असर पड़ता है ! इस तरह के सवाल अर्थशास्त्र  से सम्बंधित परीक्षा में भी पूछे जाते हैं! आईये जानते हैं आखिर ये जीडीपी है क्या ?

GDP क्या है ?

जीडीपी एक साल में उत्पादित हर तरह की वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन के मिले हुए बाजार मूल्य को जीडीपी कहा जाता है। जीडीपी दरअसल शार्ट फॉर्म है ((Gross domestic product) ) का ! चुकी इससे बाजार में होने वाला कारोबार की गति पता चलती है इस लिए ऐसे अर्थव्यवस्था का सूचक भी कहा जाता है। ज़्यादातर अर्थव्यवस्था का माप जीडीपी की गति पर किये जनता है इसलिए किसी भी देख की अर्थव्यवस्था बताने के लिए ये सबसे बड़ा स्रोत है ! हर वित्तीय वर्ष में देश के लिए जो विकास दर निर्धारित की जाती है, वह जीडीपी में होने वाली बढ़ोतरी होती है। मन लीजिये कर के एक कार निर्माण में लगे टायर का मूल्य उस समय जोड़ा जाता है जब उनका निर्माण होता है। उसके बाद कार के मूल्य के रूप में दोबारा भी उन्हें जोड़ा जाता है, पर वास्तव में सिर्फ मूल्य में वृद्धि जोड़ी जाती है। यानि जो माल बन कर तैयार हुआ उसकी लगत में से कच्चे माल की लागत घटाई जाती है फिर जो मूल्य निकलता है उसे जीडीपी में जोड़ दिया जाता है ! हर देश अपनी ज़रूरत के हिसाब से वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन हर वर्ष करते हैं ! इस तरह जीडीपी से उस देश की जीवनशैली का भी पता चलता है।

          GNI (Gross National Income) क्या है ?

हम कैसे किसी देश की जीडीपी जान सकते हैं ?

ऐसे जान सकते हैं जीडीपी (How to Know the GDP): किसी देश की अर्थव्यवस्था की की क्या स्थिति है ये जानने का सबसे एच स्रोत है , जीडीपी। जीडीपी किसी देश की जीती जगती तस्वीर पेश करता है !यह किसी देश की सच्ची अर्थव्यवस्था जानने का सबसे महत्वपूर्ण औज़ार है !जीडीपी यानी सकल घरेलू उत्पाद को तीन विधियों से जाना जा सकता है- वस्तुओं और सेवाओं के उत्पादन के माध्यम से, आय के माध्यम से और व्यय के माध्यम से। दरअसल हर देश अपने लिए एक वित्तीय वर्ष कुछ जीडीपी दर तय करता है और इसका आकलन जीडीपी के आधार पर ही किया जाता है। इसलिए इसका संबंध हमारी जीवनशैली से भी होता है। जीडीपी की गणना करते समय महंगाई दर को भी देखा जाता है।

loading...