शेयर बाजार क्या है ?

हम स्टॉक मार्किट शेयर बद्ज़र के बारे में आये दिन सुनते रहते हैं पर ये है क्या आइये जानते हैं इसके बारे में !

शेयर बाजार में शेयर का मतलब होता है किसी कंपनी में आपका "हिस्सा" जो की आप शेयर बाजार में पैसे लगाकर खरीदते है, आप शेयर बाजार  में अधिक से अधिक शेयर खरीद सकते है | शेयर बाजार किसी कंपनी के शेयर को आप इस तरह समझ सकते है, मान लीजिये की कंपनी के पास 5000 शेयर है तो वो उन्हें शेयर बाजार में बेचता है जिसे आप खरीद सकते है और चाहे तो बाद में बेच भी सकते है 

अगर आप शेयर बाजार में नए हो तो आप सोचेंगे की आप कैसे कोई शेयर ख़रीदे और बेचेंगे तो हम आपको बता दे की शेयर बाजार में शेयर ब्रोकर्स जिनका काम शेयर खरीदना और बेचना होता है इस काम का वो आपसे 2% लेते है  

शेयर बाजार का मुख्य कार्यालय मुम्बई में स्थित है जिसे हम बीएसई के नाम से जानते है, शेयर  बाजार का काम सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया(सेबी) के देख-रेख में होता है

और अगर किसी कंपनी को अपना इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (आईपीओ) जारी करना हो तो पहले सेबी की अनुमति लेना ज़रूरी होती है

सारी कंपनिया अपने हर एक शेयरहोल्डर को कंपनी की गतिविधियों से रूबरू कराती है और  उन्हें हर छह महीने या सालाना तोर पर कंपनी को लाभ होने पर अपने शेयरहोल्डर को इसका प्रॉफिट देती है

सारी कंपनिया अपने हर एक शेयरहोल्डर को कंपनी की गतिविधियों से रूबरू कराती है और  उन्हें हर छह महीने या सालाना तोर पर कंपनी को लाभ होने पर अपने शेयरहोल्डर को इसका प्रॉफिट देती है

सारी कंपनियों को शेयर बाजार में लिस्टेड होने के लिए एक समझौता करना पड़ता है | इस समझौते के तहत कंपनियों को समय-समय अपनी जानकारी अपने सेबी और  शेयरहोल्डर्स को देनी होती है , इन्ही जानकारियो के आधार पर कंपनीनियो के शेयर की मांग और कीमतों में उतार-चढाव आता है।

अगर कोई कंपनी इस समझौते का पालन नहीं करती तो सेबी उस कंपनी तो हटा देती है |

loading...