SBI ने जारी किया ऐसे 5 ट्रांसक्शन चार्जेस जो इसे बना देंगे ANTI-DIGITAL |

जहाँ एक तरफ हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी और भारत सरकार सबको digital transaction करने की सलाह दे रही है तो वही भारत का सबसे बड़ा बैंक SBI की योजना कुछ और ही है |

अभी हाल ही में SBI ने सभी बैंक खाताधारकों के लिए 5 प्रमुख शुल्क पेश किया है | जो इसे पूरी तरह से ANTI - DIGITAL बनाती है | काफी बैंक के इस फैसले का समर्थन कर रही है और वो भी इसे जल्द अपने बैंक में लागू करेंगे , अगर सारे बैंको ने ऐसे ही चार्ज लाने शुरू कर दिए तो ये साफ़ है की फिर digital बनने का सपना अधूरा ही रह जाएगा |

आइये देखते है वो शुल्क जो अब SBI के ग्राहको को भरने पड़ेंगे |

IMPS Transaction पर एक्स्ट्रा शुल्क |

अब से यदि आप IMPS के ज़रिये पैसो की लेन-देन करते थे तो अब आपको हर ट्रांसक्शन चार्जेस देने पड़ेंगे | ट्रांसक्शन शुल्क कुछ इस तरह से है , यदि आप 1 लाख का लेन-देन करते है हो तो आपको उसपे 5 RS का चार्ज देना पड़ेगा और 1 लाख से 2 लाख के बीच में 15 RS और 2 लाख से 5 लाख के बीच आपको 25 RS देने होंगे | इन शुल्कों से तो कोई आम आदमी IMPS का इस्तेमाल ही नहीं करेगा |

SBI Buddy Wallet के इस्तेमाल पर शुल्क

यदि आप किसी भी ATM से  SBI Buddy Wallet के ज़रिये पैसे निकलते है तो आपको 25 RS का शुल्क देना होगा |

अब CASH WITHDRAWALS पे देना होगा अतिरिक्त शुल्क

यदि आप किसी बैंक के एटीएम से 4 बार के बाद 5वीं बार उसका इस्तेमाल करेंगे तो आपको हर निकासी के लिए अतिरिक्त शुल्क देना होगा | ये अतिरिक्त शुल्क कुछ इस तरह है 4 मुफ़्त निकासी के बाद  आपको  20 RS का टैक्स तब जब आप अन्य बैंक के एटीएम से पैसे निकालेंगे और यदि आप SBI के एटीएम से पैसे निकालेंगे तो आपको उसके लिए 10 RS का कर देना होगा |

नया चेक बुक जारी करने का शुल्क

10-लीफलेट चेक बुक पर अब 30 रुपये से अधिक टैक्स लगाया जाएगा, जबकि 25 पत्रकों पर 75 रुपये से अधिक टैक्स लगाया जाएगा और  50 पत्रक चेक बुक पर 150 रुपये से अधिक कर लगाया जाएगा।

बैंकिंग करेस्पोंडेंट्स के इस्तेमाल पर शुल्क

अगर कोई एसबीआई उपयोगकर्ता बैंकिंग करेस्पोंडेंट्स का उपयोग करके 10,000 रुपये तक जमा करवाता है, तो मूल्य का 0.25% शुल्क उससे लिए जाएगा। यह न्यूनतम शुल्क के रूप में 2 रुपए और अधिकतम 8 रुपए तक का चार्ज लिया जाएगा। उसी समय, बैंकिंग करेस्पोंडेंट्स का उपयोग कर नकद निकासी पर  2.50% का शुल्क लगाया जाएगा |

india sbi

loading...